tumhe fark nahi parta, तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता
(Last Updated On: 13/09/2019)

Tumhe Fark Nahi Parta…!!

सुनो..!!

tumhe fark nahi parta

मेरा तुमसे गुस्सा होना सिर्फ़ उसी वजह से
कि तुमको पता चले कि मुझे फ़र्क पड़ता है
पर तुम्हे क्या
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता

तुम अब ओन-लाईन होकर भी मेरे सवालो का जवाब नहीं देती..!
मै भी ये करने कि कोशिश करता हूँ पर मुझ्से नहीं होता
मुझे फ़र्क पड़ता है
पर तुम्हे क्या
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता.!

जिन बातों को दिल से लगा कर मेरी चिंता करती थी
अब सिर्फ़ hmmmm और ok कहती हो..!
इस बात का फ़र्क पड़ता है मुझे
पर तुम्हे क्या
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता..!

पता है आज तुमसे लगातार 10 मिन्ट तक बात कर के लगा कि फिर से वोहि लम्बी लम्बी बाते होगी..!
तरसती है ये उन्ग्लिया घंटो सिर्फ़ तुम्हारे सवालो का जवाब देने के लिए
पर मेरा सवाल ये कि क्यु ये दुरिया
ये दुरियो से मुझे फ़र्क पड़ता है
पर तुम्हे क्या
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता.!

बहुत बुरा लगता है मुझे जब मेरे बातों को देख के भी तुम नज़रअन्दाज़ करती हो.!
और देखो ना माँ भी उसी वक़्त प्याज़ काटने लगती है
कुछ का कुछ छुप जाता है.!
आंखों को प्याज़ के बहाने धो देता हूँ
पर तुम्हे क्या
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता

मुझे वो इंसान बिल्कुल भी नहीं पसंद जिस्ने मुझसे तुम्हें छीन लिया ..!
बहुत नफ़रत करता हूँ मै उस से क्युकि
एक तुम हि थी जिसके सामने मैंने अपने सारे राज़ खोले
दिन भर कि थकान के बाद तुमसे बात कर के चैन कि नींद आती थी ..!
भले ही सुबह के 3 बजे सोते थे हम पर सच मे नींद पुरी हो जाती थी और सुबह तुम्हारे मेसेज का इन्तेज़ार

पर तुम्हे क्या कि अब मै सोता हि नहीं या कभी उठ हि ना पाउ
तुम्हें फ़र्क नहीं पड़ता

नफ़रत तुम से भी है मुझे
कि अपना बोल बोल कर मुझे पराया कर गयी तुम
जो बात मुझ से बाँटती थी आज वो किसी और से बाँटती हो
पर क्या करु
तुम्हें तो फ़र्क ही नहीं पड़ता
पर मुझे पड़ता है
तुम्हारे ना होने का ग़म होता है………

Mr.Daniel Rodricks

Drummer at Khamosh

4 thoughts on “Tumhe Fark Nahi Parta”

  1. Woow प्रभाकर. Bhut hi खूबसूरतीक के साथ रिश्तों की अहमियत को प्रदर्शित किया. बहुत बहुत बधाई और Sukriya

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Call Now Button